Monday, June 2, 2008

कैसी कैसी उत्तर पुस्तिकाएं...


आज यूं ही भाई बहनों के साथ बैठे बैठे गपिया रहे थे..कई मजेदार टॉपिक निकले उनमे से एक था जब परीक्षा में प्रश्न का उत्तर नहीं आता हो और कॉपी कोरी नहीं छोड़नी हो तो क्या क्या लिखा जा सकता है!मेरे पास भी अथाह तो नहीं पर थोडा बहुत अनुभव है पढाने का..एम. ए. करते करते एक स्कूल में एक साल पढाया...एम. ए करने के बाद कॉलेज में कुछ महीने संविदा पर पढाया और अब पढाती तो नहीं पर कॉपी जांचने का महा बोरिंग काम जरूर करना पड़ता है ..जब हर साल कॉन्स्टेबल भर्ती होती है और उसमे उत्तर पुस्तिकाएं चैक करनी पड़ती हैं! ये मजेदार उत्तर उस बोरिंग कार्य को रोचक बनाने में सहायक होते हैं...इस कथा में मैं बचपन से लेकर अभी तक के उन प्रश्न उत्तरों को शामिल कर रही हूँ जिन्हें मैंने स्वयम देखा है...सुना सुनाया कुछ भी नहीं है...

प्रश्न-१ ईसा मसीह ने अपनी अन्तिम घड़ियों में क्या प्रार्थना की?
उत्तर- ईसा मसीह ने प्रार्थना की कि मेरी सारी घडियाँ मेरे शिष्यों में बाँट दी जाएं और मेरी पसंद की घडी मेरे साथ दफना दी जाए!

प्रश्न-२ दांतों तले उंगली दबाने का अर्थ बताते हुए वाक्य में प्रयोग करो!
उत्तर- "इतना कठिन पेपर देखकर हमने दांतों तले ऊँगली दबा ली l

प्रश्न-३ जंतुओं और पौधों में पांच अंतर बताइये?
उत्तर- (बीच में लाइन खींचकर) पौधे हरे होते हैं, जंतु रंग बिरंगे होते हैं!
पौधों में रक्त ऊपर से नीचे बहता है, जंतुओं में रक्त नीचे से ऊपर बहता है!
पौधे हुआ हुआ नहीं करते, जंतु हुआ हुआ करते हैं! (हुआ हुआ अर्थात उनकी आवाज़,शायद उसके गाँव के आसपास भेडिये बोलते रहे होंगे )पौधे चंचल नहीं होते, जंतु चंचल होते हैं!
पांचवा भी याद किया था...भूल गया!

प्रश्न-४ कारगिल समस्या क्या है?
उत्तर- कारगिल में बहुत ठंड पड़ती है! सिपाहियों को टेंट में रहना पड़ता है और शौच के लिए बाहर लोटा लेकर जाना पड़ता है ठंड के कारण पानी जम जाता है और सिपाहियों को समस्या होती है!

प्रश्न-५ पानीपत का द्वितीय युद्ध पर निबंध लिखो?
पानीपत का द्वितीय युद्ध अकबर और हेमू के बीच हुआ था..अकबर के पास तलवार और हेमू के पास कटार थी!अकबर ने तलवार लहराई, हेमू ने कटार घुमाई!दोनों आपस में टकराई...खन्न की आवाज़ हुई!खन खना खन ...की आवाजें मैदान में गूंजने लगीं! कभी अकबर आगे तो कभी हेमू आगे!थोडी थोडी देर में दोनों सुस्ता कर पानी वगेरह पी लेते थे!फिर लड़ाई मार काट शुरू हो जाती थी!घोडे पे चढ़ चढ़ के लड़ते थे दोनों......इसी प्रकार से पूरे तीन पेज का उत्तर बना!

प्रश्न-६ मलेरिया पर टीप लिखो?
उत्तर- मलेरिया वलेरिया कुछ नहीं होता ,ये सब मन का वहम है! ( डॉकटर्स कृपया ध्यान से पढें इसे :)

प्रश्न-८ देश से गरीबी हटाने के उपाय बताइये?
उत्तर- हर गरीब को अमेरिका भेज कर वहाँ के हर आदमी को उन्हें रखने का कानून बनाना चाहिए!अमेरिका अमीर देश है उनका एक नागरिक अगर एक गरीब को पाल लेगा तो हमारे देश से गरीबी कम हो जायेगी! ( क्या बात कही...एक साथ गरीबी और जन संख्या दोनों कम)
ques-9 write an essay on cow?
ans- 1) cow is our mother.
2- it has no khaki bag.
3-it has no cycle.
4-it has eat ghaas.( बेचारे बच्चे ने याद तो पोस्टमैन का किया था..ये परीक्षा लेने वाले सच्ची में बहुत बुरे होते हैं)
प्रश्न-१० proton पर टीप लिखिए?
उत्तर- proton की खोज मोसले ने की थी! यह दूध में पाया जाता है!इसे पीने से ताकत मिलती है! हड्डी मजबूत होती है! इसके साथ neutron और electron भी पाए जाते हैं!

ये तो हैं कुछ अजीबो गरीब उत्तरों के नमूने इसके अलावा कुछ पैदाइशी सिफारिशी होते हैं...कैसी कैसी सिफारिशें लिखी होती हैं कॉपियों पर ...एक नज़र-
१- मैं बहुत गरीब हूँ...माँ की मौत हो गयी इसलिए पढ़ नहीं पायी!कृपया इस बार पास कर दीजिये!
२- मेरे ऊपर पूरे परिवार की जिम्मेदारी है!पास नहीं हुआ तो नौकरी नहीं मिलेगी! पास कर दो!
३- आपको भगवान् की कसम है..पास कर दो न!
४- मेरा पता और टेलीफोन नंबर नीचे लिखा है...जो कोई मुझे भरती कर लेगा उसे ५०,००० रुपये का इनाम दूंगा!
५- १०० का नोट नत्थी कर रहा हूँ...कृपया पास कर दें!

आप सभी ने भी अवश्य ऐसी रोचक कॉपियाँ देखी होंगी या लिखी भी होंगी!मैंने भी लिखी हैं...वो अगली बार के लिए छोड़ देती हूँ!आप भी जोड़ दीजिये इसमें अपना अनुभव...इसी ८ तारीख को मुझे फिर से कॉपी जांचने का सुअवसर प्राप्त हो रहा है!शेष अगली किसी पोस्ट में........

23 comments:

DR.ANURAG ARYA said...

इतना जुल्म न करे डी एस पी साहिबा.......उन बेचारो के उत्तर ....आपने सरे आम कर दिये....हमारी मोहतरमा भी जब कॉलेज के बच्चो की कॉपियाँ जांचने के लिए घर लाती है तो उनके उत्तर पढ़कर मैं मजे लेता हूँ......पर हमारे ख़ुद के अगर कोई उत्तर आज सरेआम कर दे तो........इसलिए अभी हम कुछ नही कहेंगे.........रहम करिये ....मैडम ......

Rajesh Roshan said...

मजेदार पोस्ट. मैं पढने में कभी बहुत अच्छा तो नही रहा लेकिन ऐसी कोपियो के बारे में केवल सुना है. देखा नही है. ये माँ मर जाने वाली तो गजब है ... लोग ऐसे ड्रामे कर सकते हैं सहज रूप से विश्वास नही हो रहा

सुशील कुमार said...

वाह क्या बात है। क्या topic लिया पोस्ट के लिए। पढ कर अच्छा लगा। बधाई।

Rohit Tripathi said...

bahut mazedar likha aapne... jawaab kafi mazeddar hai, aur jhut nahi boluga ye kafi gamous joke hai par maine bhi ek baar answer mein yahi likha tha

Q. Plasi ke yudh se aap kya samajhte hai?

Ans by me : Plasi ke yudh se hum kuch nahi samajhte hai :-)

likhte rahiye bahut achi post

अभिषेक ओझा said...

मेरे पिताजी शिक्षक हैं और ऐसे किस्से हमने भी खूब सुने हैं... और जब स्कूल में था तो गणित के मास्टर साहब कापियाँ जांचने को भी दे देते थे... पर गणित में ये किस्से नहीं मिले कभी.

इतना क्रिएटिव दिमाग हमारा कभी नही रहा और पढने में भी तथाकथित तेज कहे जाते थे... पर थोडी बहुत कलाकारी तो हम भी करते थे... ख़ास कर गणित में कुछ लाइन ऊपर से और कुछ नीचे से लिख कर हेन्स proved. पर IIT में जाने के बाद उत्तर पुस्तिका में why? how? और So what? जैसे कमेंट लिख दिए जाने लगे... तो पता चला की ऐसा भी होता है... और ये कलाकारी ज्यादा दिन तक चल नहीं पायी :(

बाल किशन said...

मजेदार और रोचक.
मैंने भी कभी ऐसे ही उत्तर लिखे थे. एक-दो उदाहर्ण दे रहा हूँ.
दृश्य- १
कक्षा नौ. अर्धवार्षिक परीक्षा. विषय इतिहास.
(नई फ़िल्म आई थी अमिताभ की "शराबी". स्कूल से भाग कर कई बार देखी. नतीजा.)
तीन गाने पूरे उतार आया.
दृश्य- 2
नई फ़िल्म आई थी मिथुन की DISCO DANCER बहुत प्रभावित था दसियों बार देखी. वैसे ही.
विषय गणित. कापी के ऊपर क्या लिखा था.
नाम: DISCO बालकिशन मुसद्दी.
कक्षा: DISCO पाँच.
विषय:DISCO गणित.
टीचर: DISCO ऐ.के.झा.

दोनों ही समय जो इनाम मिला वो आप समझ सकतें हैं.

Sanjeet Tripathi said...

:D मस्त!

हमारी भाभी जी व्याख्याता है तो अक्सर ऐसी कॉपियां देखने को मिलते रहती है जिनमें एक से एकजवाब और सिफारिशें देखने को मिलती है।

mamta said...

बहुत ही रोचक।

रंजू ranju said...

वाह सही विषय लिया आपने ..अध्यापिका होने के नाते मेरे पास भी ऐसे कई रोचक अनुभव हैं ..पर मेरे से पढने वाले बच्चे अफगानी बच्चे थे ..और वह जो उत्तर लिखते थे उसकी तो एक अलग पोस्ट बन जायेगी :) सो कभी कुछ मेरी कलम से में लिखेंगे ..८ तारिख के पेपर जांचने का अनुभव सुनने का इंतज़ार रहेगा ..:)

Udan Tashtari said...

बड़ा ही मजा आया इसे पढ़ने में. सबसे पसंद मुझे पानीपत का द्वितीय युद्ध पर निबंध आया. आभार इतना ह~म्साने के लिए.

Gyandutt Pandey said...

ओह, अभी मैने तीन सौ कर्मचारियों की कापियां चेक की हैं - जो गजटेड अफसर बनने की प्रारम्भिक परीक्षा में बैठे थे। और ऐसे ही मजेदार उत्तर मिले उसमें रेल कर्मियों के।
बस यही दिक्कत है कि आचार नियमों के चलते लिखा नहीं जा सकता! :)

अरुण said...

हम अपने यहा कर्मचारियो की परिक्षा लेते है लगभग हर महीने , उसमे ऐसे ऐसे जवाब और सुझाव दिये होते है कि अगले पंद्रह दिन तक हसी का कारण वही रहते है जी :)

विधान चंद्र उपाध्याय said...

padh kar accha laga....

Dr. Chandra Kumar Jain said...

प्रोफेसर हूँ,लिहाज़ा गौर से पढ़ गया.
कोई संदेह नहीं कि
अज़ब-ग़ज़ब उत्तर लिखे तो जाते हैं.
आपकी प्रस्तुति मज़ेदार है.
========================
बधाई
डा.चंद्रकुमार जैन

अजित वडनेरकर said...

मज़ेदार । मैं खुद अध्यापक माता पिता की संतान हूं और पत्नी भी पढ़ाती हैं।
ऐसे मज़ेदार वाक़ये सामने आते रहे हैं.

अनूप शुक्ल said...

मजेदार है।

छत्तीसगढिया .. Sanjeeva Tiwari said...

हमारे छत्तीसगढ में तो इस पर शोध हो रही है जी बडा तूफान आया है और शासन हिल गई है इस उत्तर पुस्तिकाओं के उत्तरों में । बढिया लिखा है आपने धन्यवाद ।

कुश एक खूबसूरत ख्याल said...

हमारे घर के पास ही एक शिक्षक रहा करते थे.. वो हमेशा मुझे बुलाते थे कॉपी चैक करने के लिए.. मैने एक बार पढ़ा था एक कॉपी में लिखा था.. की "मुझे इस बार पास कर दो हिंदू को गीता की कसम मुसलमान को क़ुरान की कसम ईसाई को बाइबल की कसम और सिख को गुरु ग्रंथ साहेब की कसम.. " लगता है अभी वो बोलीवुड में पाव जमा चुका होगा.. क्योंकि उसकी कॉपी बड़ी फिल्मी थी..

Arun Aditya said...

वाकई मजेदार है। एक और मजेदार उत्तर देखिये- गिल साहिब जब कार में निकलते हैं, हम उन्हें कारगिल कहते हैं।

manni said...

sachmuch hi bada majedar hai.

डुबेजी said...

pallavi ji namaskar pad kar maja aa gaya aisi hi majedar batein likhte rahiye hum cartooniston ko cartoon ke ideas mil jate hain vaise aaj kal students blank uttar pustika mein hundred rupees rakh kar dete hain

sumi said...

wow maza aa gaya pad k....hasi par control hi nahi hai..he he he

but sab se khas uttar to aapne likha hi nahi...chalo me bata deti hu.......GAAY HAMARI MAATA HAI OR HUMKO KUCH NAHI AATA HAI...he he very common ans....

nice post..

Ravi Rajbhar said...

hahahahhahhhha.............
pet ful gya hans- hans ke.
waise praimary ki kapiyan hamne bhi bahut janchi hai.
sach majedar rahta hai o anubhaw
ab chhut gya hai..